MERA DESH MERI SHAAN

मेरा देश मेरी आबरू का निशान है,
मुझमें जो झलकती है, मेरे देश की पहचान है I

अलग अलग धर्म और जाति के लोग हैं यहाँ,
पर इन सब के लिए प्यारा एक हिन्दोस्तान है I

सारे जहाँ से अच्छा, यह सबसे हसीँ सितारा है,
गर्व है हर एक भारत माता की सन्तान है I

इसके लिए हम अपनी जान भी लुटा दें,
सच कहो तो यह ही हमारी असली जान है I

नोच डालें वह बुरी नज़र जो इसके लिए उठे,
इस देश का रखवाला भारत का हर जवान है I

दिल में उमंग भरके गणतंत्र में हम गाते हैं,
और मुल्क भी हैं पर मेरा भारत महान है I

पूर्व, पश्चिम, उत्तर, दक्षिण कहीं भी हों हम,
इस देश की मिटटी को शत शत प्रणाम है I

देखना एक दिन सारी दुनिया यह कहेगी,
सबसे सुन्दर और प्यारा अपना हिन्दोस्तान है I

जय हिन्द आज के दिन, हिन्द के वासियो,
इतने वर्षों के बाद भी जय जवान, जय किसान है I

आयो मिल के तिरंगे को करें सलाम,
यह ही हमारी आबरू, यह ही हमारी शान है I

Mera desh meri aabru ka nishaan hai,
Mujhamein jo jhalakti hai, mere desh ki pehchaan hai.

Alag alag dharm aur jati ke log hai yahan,
Par in sab ke liye pyaara ek hindostan hai.

Saare jahan se achha, yeh sabase haseen sitaara hai,
Garv hai har ek Bharat Mata ki santaan hai.

Iske liye ham apni jaan bhi luta dein,
Sach kaho to yeh hi hamaari asli jaan hai.

Noch daalen wo buri nazar jo iske liye uthe,
Is desh ka rakhwaala bharat ka har jawan hai.

Dil mein umang bharke jantantra mein ham gaate hain,
Aur mulk bhi hain par mera Bharat mahaan hai.

Purv, Paschim, Uttar, Dakshin kahin bhi hon ham,
Is desh ki mitti ko shat shat pranaam hai.

Dekhna ik din saari duniya yeh kahegi,
Sabase sundar aur pyaara apna Hindostan hai.

Jai Hind aaj ke din, Hind ke waasiyo,
Itne varshon ke baad bhi Jai Jawan, Jai Kisaan hai.

Aao mil ke tirange ko karen salaam,
Yeh hi hamaari aabru, yeh hi hamari shaan hai.

© 2018, Sunbyanyname. All rights reserved.

You may also like